Thu. Jul 11th, 2019

गहलोत और पायलट में सियासी जंग , राजस्थान कांग्रेस में फूट के आसार

Jaipur Samachar , 11 जुलाई 2019 : राजस्थान में अभी सरकार बने ज्यादा महीने भले न हुए हो लेकिन जंग-ए-सियासत सुरु हो गयी है | मुख्यामंत्री पद को लेकर सचिन पायलट और अशोक गहलोत में इशारों ही इशारों में सुरु हुई जंग खुल कर सामने आ गयी है |

बजट पेश करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए अशोक गहलोत ने आखिरकार सचिन पायलट को साफ कर दिया कि वह राजस्थान का मुख्यमंत्री बनने का मंसूबा ना पालें. अशोक गहलोत ने कहा कि विधानसभा चुनाव में लोगों ने उनके नाम पर वोट दिए हैं. उनको मुख्यमंत्री बनाने के लिए वोट दिए हैं. इसलिए कांग्रेस पार्टी ने उनको मुख्यमंत्री बनाया है. किसी और के नाम पर वोट नहीं मिले हैं. जो मुख्यमंत्री बनने की दौड़ में भी नहीं थे वह भी अपना नाम आगे ला रहे हैं.

मीडिया ख़बरों के अनुसार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट के मुख्यमंत्री बनने के गुप्त अभियान से त्रस्त हैं और अब आर-पार करने के मूड में हैं.

पायलट को लगता है कि इतने सालो की मेहनत का कोई फायदा नहीं हुआ , मुख्यमंत्री बन गए गहलोत | राष्ट्रीय नेतृत्व से उम्मीद थी , मगर कोई सुध लेने वाला ही नहीं दीखता | पत्रकारों से बात करते हुए पायलट ने कहा कि राजस्थान में सरकार कार्यकर्ताओं की मेहनत से बनी है और राहुल गांधी के नाम पर बनी है न कि किसी और के नाम पर बनी है.

बजट पर बुलाई गयी पत्रकार वार्ता में पायलट ने खुद ही बोल दिया कि आप लोग कठिन सवाल नहीं पूछते. माना जा रहा है कि राजस्थान में दोनों के बीच की लड़ाई अब इस स्तर पर पहुंच गई है कि समय रहते कोई समाधान नहीं निकला तो सरकार चलाना मुस्किल हो सकता है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *